[PDF] Gunahon ka Devta (गुनाहों का देवता ) by Dharamveer Bharti

Gunahon ka Devta by Dharamveer Bharti in hindi

Gunahon ka Devta (गुनाहों का देवता)




 Gunahon Ka Devta (गुनाहों का देवता) by Dharmaveer Bharti Writer: Dharamaveer Bharti

Size: 2.8 MB

Pages: 261

Language: Hindi

Genre: Fiction,Cultural

Format: Pdf

Price: Free

Publish Date: 2009



गुनाहों का देवता हिंदी उपन्यासकार धर्मवीर भारती के शुरुआती दौर के और सर्वाधिक पढ़े जाने वाले उपन्यासों में से एक है। यह सबसे पहले 1959 में प्रकाशित हुई थी। इसमें प्रेम के अव्यक्त और अलौकिक रूप का अन्यतम चित्रण है। पात्रों के चरित्र-चित्रण की दृष्टि से यह हिन्दी के सर्वश्रेष्ठ उपन्यासों में गिना जाता है। इस कहानी का ठिकाना अंग्रेजों के समय का इलाहाबाद रहा है। कहानी के तीन मुख्य पात्र हैं रू चन्दर, सुधा और पम्मी। पूरी कहानी मुख्यतः इन्ही पात्रों के इर्द-गिर्द घूमती रहती है।





Post a Comment

0 Comments