[PDF] प्रलयंकारी नागराज | Parlayankari Nagraj (Nagraj Series Book 10)

प्रलयंकारी नागराज | Parlayankari Nagraj in pdf

प्रलयंकारी नागराज (Parlayankari Nagraj)




 प्रलयंकारी नागराज | Parlayankari Nagraj in pdf
  Publication: Raj Comics

  Size: 5.44 MB

  Pages: 33

  Language: Hindi

  Genre: Crime

  Format PDF

  Price: Free

  Publish Date:1988





इससे पहले कि वह यूरोप के सबसे घातक आतंकवादी सीमेन के बारे में कुछ भी बोल पाता, नागराज खुद पहुंचे और नागराज को उसके मौत के किले में कैद कर दिया। क्या नागराज मौत के उस किले से जिंदा लौट पाएगा, जिससे एक मरी हुई लाश भी नहीं बच सकती थी? क्या नागराज नाविकों के आतंकवाद का खात्मा कर पाएगा?




Post a Comment

0 Comments