[PDF] Practical Steps to Think and Grow Rich in hindi by Napoleon Hill

Practical Steps to Think and Grow hindi pdf

क Practical Steps to Think and Grow Rich



 Practical Steps to Think and Grow Rich in pdf Writer: Napoleon Hill

Size: 1.8 MB

Pages: 247

Language: Hindi

Genre: Motivational

Format PDF

Publish Date: 29 July 2016




ऐसा प्रतीत होता है कि कुछ लोगों को सफलता बहुत आसानी से मिल जाती है I उनके प्रयास भले ही प्रत्यक्ष तौर पर न दिखें लेकिन वे शानदार बंगलों में रहते हैं, अपने बच्चों को सर्वोत्तम स्कूलों में भेजते हैं, बढ़िया कारों में घुमते हैं, दुनिया भर की सैर करते हैं और फिर भी उनके पास दूसरों की मदद के लिए पर्याप्त संसाधन होते हैं I क्या वे आपसे ज़्यादा पढ़े-लिखे और मेधावी हैं? क्या वे आपसे अधिक परिश्रम करते हैं? क्या वे आजीविका कमाने में ही अपना जीवन लगा देते हैं? नहीं!

तो फिर उनकी सफलता का रहस्य क्या है? वर्षों पहले, एक युवा पत्रकार नेपोलियन हिल ने 25 सालों के दौरान 500 से अधिक करोड़पतियों के साक्षात्कार लिए, और सर्वाधिक महत्वपूर्ण बात यह रही कि उन्होंने 25000 से अधिक ऐसे लोगों के बारे में अध्ययन किया, जो विफल रहे थे I उनकी इस कोशिश का मकसद था - सफलता का गुप्त फार्मूला उजागर करना और उसे पूरी दुनिया के सामने पेश करना I उनके नज़रिए और कोशिश का नतीजा प्रतिष्ठित पुस्तक थिंक एंड ग्रो रिच (सोचिये और अमीर बनिये) के रूप में सामने आया I


इस पुस्तक की अब तक दुनिया भर में १करोड़ ५० लाख से अधिक प्रतियाँ बिक चुकी हैं I इससे लाखों पाठकों को प्रेरणा और मार्गदर्शन मिला है और उस दुनिया को बदलने में मदद मिली है, जिसमें हम रह रहे हैं I इस संस्करण में आप जानेंगे कि वह मनोदशा कैसे हासिल की जाए जो दौलत को आकर्षित करती है I यह पुस्तक थिंक एंड ग्रो रिच में प्रस्तुत सिद्धांतों को परिष्कृत कर उन्हें एक सहज और सुगम रूप में पेश करती हैं I इसकी विषयवस्तु को व्यावहारिक परामर्श द्वारा समृद्ध किया गया है,


और प्रत्येक अध्याय के साथ अलग खण्ड में सफलता की कहानियाँ दी गई हैं I ये कहानियाँ प्रत्येक सूत्र के पीछे छिपे सिद्धांतों को उजागर करती हैं I यह पुस्तक आपको नेपोलियन हिल के सफलता के फॉर्मूले को बेहतर ढंग से समझने और उन्हें अमल में लाने में मदद करती है, जिससे जीवन के सभी पहलुओं में आपकी क़ामयाबी सुनिश्चित हो सके I



Post a Comment

0 Comments